Breaking News
Home / Uncategorized / अखिलेश यादव के पूर्व बंगले में पहुंचकर अधिकारी रह गये हैरान, देखोगे आप तो आप भी चौक जाओगे

अखिलेश यादव के पूर्व बंगले में पहुंचकर अधिकारी रह गये हैरान, देखोगे आप तो आप भी चौक जाओगे

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सरकारी बँगला खाली करना था. राजनाथ सिंह और कल्याण सिंह ने जल्द से जल्द बंगले को खाली कर इसकी चाभी विभाग को भेज दी थी लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बँगला खाली करने के लिए कितना समय लगा दिया ये तो हम सभी जानते हैं लेकिन अब देखिये बँगला खाली करने से पहले अखिलेश ने आलिशान बंगले की क्या हालत कर दी है!

Source

दरअसल खबर के मुताबिक़ अखिलेश यादव ने बँगला तीन जून को ही खाली कर दिया था लेकिन राज्य संपत्ति विभाग को उसकी चाबी 9 जून को सौंपी. चाभी मिलने के बाद जब राज्य सम्पत्ति विभाग के अफसर बंगले के अंदर पहुंचे तो अंदर का नजारा देखकर हर कोई दंग रह गया. कुछ दिन पहले  तक आलिशान दिखने वाला यह बँगला अब खंडहर बन चुका था. जैसे जैसे मीडिया कर्मी और अधिकारी बंगले के अंदर जा रहे थे वैसे वैसे पूरा बंगला टूटा-फूटा दिखाई दे रहा था.

आपको बता दें कि बंगले के अंदर दीवारों को नुकसान पहुंचाया गया था. टाइल्स तोड़ दी गयी थी. साईकिल ट्रेक को पूरी तरह से नष्ट कर दिया गया था. हमेशा हरा-भरा रहने वाले गार्डन से भी कुर्सियां और बेंच नदारद हैं.

फ्लोर टाइल्स, मार्बल समेत कई जगह फर्श टूटी पड़ी मिली यहाँ तक की इलेक्ट्रिक बोर्ड  को भी नही छोड़ा गया उसे भी तोड़ दिया गया है.

बैडमिंटन कोर्ट की भी फर्श, दीवारें, नेट और टाइल्स को भी उखाड़ दिया गया है.

हालाँकि अगर पूरे बंगले में अगर किसी स्थान को नुकसान नही पहुंचा था तो वो था मंदिर. संगमरमर का बना यह मंदिर पूरी तरह से सुरक्षित था. इसके अलावा पूरे बंगले की भारी मात्रा में नुकसान पहुंचाने की कोशिश की गयी है.

तो क्या यह सब अखिलेश यादव ने बंगले को खाली करने की जलन की वजह से करवाया हैं?  जो बंगला कुछ दिन पहले आलिशान घर की तरह जगमगा रहा था उसे इस तरह नुकसान करने पर अखिलेश यादव की नियत साफ़ झलक उठती है. यह हम सभी जानते हैं कि अखिलेश यादव और मायावती ने बँगला ना खाली करने को सारे तरीके अपना लिए थे लेकिन सरकार और कोर्ट के कड़े रुख के चलते इन्हें बँगला खाली ही करना पड़ा.